भारत में आने वाले प्रमुख पुर्तगली गवर्नर

भारत में पुर्तगाली

पुर्तगालियों ने 1505 से दिसंबर 1961 तक भारत पर शासन किया था पुर्तगाली भारत के लिए सीधा समुद्री मार्ग खोजने वाले पहले यूरोपीय थे पुर्तगाली नाविक वास्कोडिगामा 20 मई 1948 को एक गुजराती पथ प्रदेश अब्दुल माणिक की सहायता से भारत के दक्षिण पश्चिम के महत्वपूर्ण बंदरगाह कालीकट पहुंचा था वहां के स्थानीय राजा जामेरी ने उनका स्वागत किया और उसे कुछ अधिकार भी दिए वास्कोडिगामा तीन बार भारत आए तीसरी बार 1524 के प्रारंभ में भारत आए थे और 1524 में ही भारत में उनकी मृत्यु हो गई उनकी समाधि कोचीन केरल में स्थित है आप इस लेख में पुर्तगालियों के बारे में जानेंगे जो आधुनिक भारतीय इतिहास पर यूपीएससी सिविल सेवा परीक्षा की तैयारी में आपको मदद करेगा

भारत में आने वाले प्रमुख पुर्तगली गवर्नर

  • 1.फ्रांसिस्को डी अल्मेडा (1503-1509 AD)
  • 2.अल्फांसो डी अल्बुकर्क (1509-1515 AD)
  • 3.नाना दा कुन्हा (1529-1538 AD)

फ्रांसिस्को डी अल्मेडा (1503-1509 AD)

  • फ्रांसिस्को डी अल्मेडा भारत आने वाला प्रथम पुर्तगाली गवर्नर था
  • फ्रांसिस्को डी अल्मेडा कन्नूर केरल में पुर्तगालियों का दूसरा कारखाना स्थापित किया था
  • अलमेडा ने ब्लू वाटर पॉलिसी की शुरुआत की जिससे हिंद महासागर पर नियंत्रण कर सके
  • अलमेडा ने 1509 ईस्वी में तुर्की मिश्र और गुजरात की संयुक्त सेना को पराजित कर दिया और दीव पर अधिकार कर लिया
  • इस युद्ध के पश्चात आने वाले कुछ वर्षों तक हिंद महासागर को पुर्तगाली सागर के रूप में जाना जाने लगा

अल्फांसो डी अल्बुकर्क (1509-1515 AD)

  • यह भारत का दूसरा पुर्तगाली गवर्नर था
  • अल्बुकर्क ने भारत के पश्चिम में कोचीन में एक दुर्गा की स्थापना किया
  • इन्होंने 1510 में विजयपुर के शासक युसूफ आदिल शाह से गोवा को जीत लिया था
  • और 1515 ईस्वी में इन्होंने फारस की खाड़ी के महत्वपूर्ण बंदरगाह हार्मूज को भी जीत लिया था
  • अल्बुकर्क ने ईसाई धर्म के प्रचार प्रसार को बढ़ावा दिया
  • इसने पुर्तगालियो को भारत में अस्थाई बस्तियां बसाने के लिए प्रोत्साहित किया
  • इसे भारत में पुर्तगाली साम्राज्य का वास्तविक संस्थापक कहा जाता है

नाना दा कुन्हा (1529-1538 AD)

  • भारत के तीसरे पुर्तगाली गवर्नर नाना दए कुन्हा थे।
  • यह मुगल बादशाह हुमायूं के समकालीन थे
  • उनके शासन काल में गोवा पुर्तगालियों की स्थाई राजधानी बन गई
  • नाना दो कुन्हा ने पुर्तगाली व्यापार का विस्तार पश्चिमी तट से पूर्वी तट तक फैलाया
  • बंगाल में हुगली को व्यापारी को ठीक के रूप में स्थापित किया

अब संबंधित प्रश्नों का अभ्यास करें और देखें कि आपने क्या सीखा?

पुर्तगली गवर्नर से संबंधित प्रश्न उत्तर

यह भी पढ़ें:

Leave a Comment