बिहार की प्रमुख नदियाँ (bihar ki pramukh nadiyan): जल संसाधन का अनमोल खजाना

bihar ki pramukh nadiyan

बिहार की प्रमुख नदियाँ (bihar ki pramukh nadiyan)

बिहार की प्रमुख नदियाँ गंगा,सोन, कोसी,पुनपुन,इत्यादि है |

गंगा नदी (Ganga River)

गंगा नदी भारत के सबसे पवित्र नदी है।

गंगा नदी की कुल लंबाई 2525 किलोमीटर है।

बिहार में गंगा नदी की लंबाई 445 किलोमीटर है।

गंगा नदी उत्तराखंड से निकलकर बंगाल की खाड़ी में गिरती है।

यमुना, सोन,गंडक और कोसी गंगा की प्रमुख सहायक नदियां हैं।

सोन नदी (Sone River)

सोन नदी बिहार झारखंड और उत्तर प्रदेश में बहती है।

सोन नदी की कुल लंबाई 784 किलोमीटर है।

सोन नदी अमरकंटक के निकट सोनू मुद्दा से उद्गम होती है।

भारत का दूसरा सबसे बड़ा बांध “रिहंद बांध” सोन नदी पर बना हुआ है।

बिहार का इंद्रपुरी बांध भी सोन नदी पर बना हुआ है।

पुनपुन नदी (Punpun River)

पुनपुन नदी बिहार राज्य की महत्वपूर्ण नदियों में से एक है।

पुनपुन नदी की लंबाई 320 किलोमीटर है।

पुनपुन नदी का प्रवाह बिहार के मध्य भाग से होता है।

जिसे किसान सिंचाई के लिए इस्तेमाल करते हैं।

पुनपुन नदी का पानी सफाई और जल स्वच्छता के लिए महत्वपूर्ण है।

कोसी नदी (Koshi River)

कोसी नदी भारत की एक प्रमुख नदी है।

जिसकी लंबाई 720 किलोमीटर तथा बिहार में इसकी लंबाई 235 किलोमीटर है।

कोसी नदी बिहार में बाढ़ के लिए प्रसिद्ध है।

इसीलिए कोसी नदी को बिहार का शोक नदी कहा जाता है।

कोसी नदी की शुरुआत तिब्बत के छोपरा कांगरी से होती है ,और कैलाश पर्वत से निकलकर नेपाल के मैंकालू पर्वत से गुजरती है

Leave a Comment