पंडित जवाहरलाल नेहरू पर कविताएं (Pandit Jawaharlal Nehru poems In Hindi): नेहरू चाचा पर कविता पढ़ें

पंडित जवाहरलाल नेहरू पर कविता (Pandit Jawaharlal Nehru poems In Hindi)- पंडित जवाहरलाल नेहरू का जन्म 14 नवंबर 1889 को इलाहाबाद में हुआ था। हमारे देश को आज़ादी दिलाने में उनकी अहम भूमिका थी। पंडित जवाहरलाल नेहरू भारत की स्वतंत्रता की जंग लड़ने वाले नेताओं में से एक थे। देश को आजादी मिलने के बाद पंडित जवाहरलाल नेहरू स्वतंत्र भारत के पहले प्रधानमंत्री बने। उनका सभी बच्चों से गहरा स्नेह था। जवाहरलाल नेहरू ने राष्ट्र के कल्याण के लिए कई नेक कार्य किये और अपने कार्यों से सभी को प्रेरित किया। 27 मई 1964 को पंडित जवाहरलाल नेहरू का निधन हो गया।

पंडित जवाहरलाल नेहरू पर कविताएं (Pandit Jawaharlal Nehru poems In Hindi)

भारत के पहले प्रधान मंत्री, पंडित जवाहरलाल नेहरू, जिन्हें प्यार से चाचा नेहरू कहा जाता है।बच्चों के प्रति चाचा नेहरू के असीम प्यार और स्नेह को देखते हुए हर साल उनके जन्मदिन को (Childrain’s Day) के रूप में मनाया जाता है। चाचा नेहरू के जन्मदिन पर, हम आपके लिए पंडित जवाहरलाल नेहरू को समर्पित हिंदी में एक कविता लेकर आए हैं। हमारी पोस्ट “Pandit Jawaharlal Nehru poems In Hindi” पढ़कर आप उन्हें याद कर श्रद्धांजलि दे सकते हैं। जवाहरलाल नेहरू पर कविता हिंदी में नीचे से पढ़ें।

चाचा नेहरू पर कविता

पंडित जवाहरलाल नेहरू पर कविता हिंदी में
(Pandit Jawaharlal Nehru Poems In Hindi)

नेहरू चाचा तुम्हें सलाम I

अमन-शांति का दे पैगाम II

जग को जंग से बचाया I

हम बच्चों को भी मनाया II

जन्मदिवस बच्चों के नाम I

नेहरू चाचा तुम्हें सलाम II

देश को दी हैं योजनाएं I

लोहा और इस्पात बनाए II

बांध बने बिजली निकाली I

नहरों से खेतों में हरियाली II

प्रगति का दिया इनाम I

नेहरू चाचा तुम्हें प्रणाम II

ये भी पढ़ें

पंडित जवाहरलाल नेहरू कोट्सयहाँ से पढ़ें

चाचा नेहरु प्यारे थे I

भारत माता के राजदुलारे थे II

देश के पहले पधानमंत्री थे I

स्वतंत्रता के सैनानी थे II

बच्चे इनको सदा प्यार से I

चाचा नेहरू कहते।I

चाचाजी इन बच्चों के बीच I

बच्चे बनकर रहते है॥

अचकन में फूल लगाते थे I

हमेशा ही मुस्काते थे II

बच्चो से प्यार जताते थे I

चाचा नेहरु प्यारे थेII

ये भी पढ़ें

पंडित जवाहरलाल नेहरू पर 10 लाइनयहाँ से पढ़ें

तुमने किया स्वदेश स्वतंत्र,फूंका देश-प्रेम का मन्त्र I आजादी के दीवानों में पाया पावन यश अभिराम II

चाचा नेहरू, तुम्हें प्रणाम !

सबको दिया ह्रदय का प्यार, चाहा जन-जन का उद्धार I भारत माता की सेवा में, समझ लिया आराम हराम II

चाचा नेहरू, तुम्हें प्रणाम !

पंचशील का गाया गान, विश्व -शांति की छेड़ी तान I दुनिया को माना परिवार,बही प्रेम-सरिता अविराम II

चाचा नेहरू, तुम्हें प्रणाम !

पाकर तुम-सा अनुपम लाल, हुआ देश का ऊँचा भाल I भूल नही सकते तुमको हम, अमर रहेगा युग-युग नाम II

चाचा नेहरू, तुम्हें प्रणाम !

ये भी पढ़ें

जवाहरलाल नेहरू का जीवन परिचययहाँ से पढ़ें

चाचा नेहरु ने देखे थे !
नव भारत के सपने !!
सपने पूरे कर सकते थे !
उनके बच्चे अपने !!

ऐसी शिक्षा हमे आपसे !
मिली यही सौभाग्य हमारा !!
मरकर भी हो गया अमर जो !
चाचा नेहरू सबका प्यारा !!

शालाओं मे भी होते हैं !
नये नये आयोजन !!
जिन्हें देख आनंदित होते !
हम बच्चों के तन मन !!

ये भी पढ़ें

पंडित जवाहरलाल नेहरू पर कवितायहाँ से पढ़ें

चाचा नेहरू देश के शान I
जन्म दिवस बच्चों के नाम II
स्वतंत्र देश के पहले प्रधान I
आओ करे उनका गुणगान II
देश के खातिर नौ -नौ बार I
जेल गए छोड़कर घर-द्वार II
हिन्द-देश को किया आजाद I
मिला भारत को पूरा स्वराज ।I
आधुनिक भारत का किया निर्माण I
आओ करे उनका गुणगान IIII

ये भी पढ़ें

पंडित जवाहरलाल नेहरू कोट्सयहाँ से पढ़ें

Leave a Comment